राष्ट्रीय - धुंध और ठिठुरन ने रोकी समय की चाल, घरों में दुबकने को मजबूर हुए लोग

धुंध और ठिठुरन ने रोकी समय की चाल, घरों में दुबकने को मजबूर हुए लोग



Posted Date: 07 Jan 2019

59
View
         

नई दिल्ली। पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी के कारण उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप निरंतर बढ़ता जा रहा है। रात से शीत लहर चलने के कारण ठंड और बढ़ गयी है। दिल्ली में रविवार को हुई बारिश के बाद सोमवार सुबह धुंध छाई रही। इसकी वजह से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से जाने वाली ज्यादातर फ्लाइट देरी से रवाना हुईं।

एयरपोर्ट अथॉरिटी ने बताया कि सुबह 9 बजे से 10 बजे के बीच विजिबिलिटी कम होने की वजह से रनवे नंबर 29 पर विमानों की आवाजाही में परेशानी थी। ऐसे में विमान रनवे नंबर 28 से रवाना किए गए। हालांकि, बाद में उड़ानों की आवाजाही पूरी तरह बहाल कर दी गईं। दिल्ली से गुजरने वाली 13 ट्रेनें भी देरी से चल रही हैं।

हिमाचल के शिमला, मनाली, किन्नौर और डलहौजी समेत कई इलाकों में रविवार को भारी बर्फबारी हुई है। उधर, जम्मू में वैष्णोदेवी मंदिर की पहाड़ियों पर भी बर्फबारी हुई है। उत्तराखंड में मसूरी के धनौटी और सुरकंडा इलाकों में रविवार से शुरू हुआ हिमपात का दौर सोमवार को भी जारी है।

यह भी पढ़ें.. राहुल के वार पर रक्षा मंत्री का पलटवार, सबूत दिखाकर कहा- अब माफी मांगे या इस्तीफा दें

उत्तराखंड के स्थानीय मौसम विभाग के मुताबिक कुमाऊं क्षेत्र में सोमवार को कुछ स्थानों पर बारिश और बर्फबारी हो सकती है। उधमसिंह नगर, हरिद्वार, हेमकुंड साहेब और औली में बर्फ की चादर बिछ गई है। रविवार को मसूरी में न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री, उत्तरकाशी में 3 डिग्री, अलमोड़ा में 2.3 डिग्री और मुक्तेश्वर में 3.1 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। राज्य में पिथौरागढ़ 1.4 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे सर्द रहा। विजबिलिटी कम होने की वजह से यमुनोत्री और गंगोत्री के हाईवे पर वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है।

यह भी पढ़ें.. बीजेपी सांसद के विवादित बोल, कहा- तनख्वाह से कोई अपना चुनाव क्षेत्र नहीं चला सकता, चोरी तो...

उत्तराखंड में हो रही बर्फबारी ने उत्तरप्रदेश ठंड बढ़ा दी है। लखनऊ समेत कई शहरों में बारिश से रविवार को ठिठुरन और बढ़ गई। मौसम विभाग के मुताबिक रविवार को राज्य के कुछ हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से ज्यादा रहा, लेकिन बर्फीली हवा की वजह से कंपकंपाती सर्दी से राहत नहीं मिली पा रही है। राज्य के ज्यादतर हिस्सों में 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं।


BY : Saheefah Khan