राष्ट्रीय - बलात्कार के जुर्म में सजा काट रहे राम रहीम की बढ़ीं मुश्किलें, हत्या के मामले में कोर्ट सुनाएगी फैसला

बलात्कार के जुर्म में सजा काट रहे राम रहीम की बढ़ीं मुश्किलें, हत्या के मामले में कोर्ट सुनाएगी फैसला



Posted Date: 11 Jan 2019

68
View
         

नई दिल्ली। बलात्कार के आरोप में पहले से ही जेल में सजा काट रहे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। पत्रकार छत्रपति की हत्या के मामले में भी कोर्ट आज राम रहीम पर फैसला सुना सकती है। पत्रकार की हत्या के मामले में पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत आज इस केस में फैसला दे सकती है। राम रहीम को लेकर आने वाले कोर्ट के फैसले के चलते पंजाब और हरियाणा के कई इलाकों में सुरक्षा बढ़ाने के साथ-साथ पुलिस द्वारा हाई अलर्ट जारी किया गया है।

बता दें कि अगस्त 2017 में राम रहीम को सजा सुनाए जाने के दौरान हरियाणा के सिरसा और पंचकूला में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। इसके चलते पुलिस इस बार खासी सावधानी बरत रही है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मोहम्मद अकील ने बताया कि हरियाणा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि सभी जिलों की पुलिस को लोगों को गैरजरूरी रूप से जमा होने से रोकने और अतिरिक्त निगरानी रखने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कई इलाकों में नाकेबंदी भी की गई है। पुलिस ने कहा कि सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय के नजदीक अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।

अगर बात करें राम रहीम के खिलाफ लगे हत्या के मामले की तो पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड 16 साल पुराना है। दरअसल, 2002 में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वो लगातार अपने समाचार पत्र में डेरे में होने वाले अनर्थ से जुड़ी ख़बरों को छाप रहे थे।

पत्रकार के परिवार ने इस संबंध में मामला दर्ज कराया था। उनकी याचिका पर अदालत ने इस हत्याकांड की जांच नवंबर 2003 को सीबीआई के हवाले कर दी थी। 2007 में सीबीआई ने कोर्ट में चार्जशीट दाखिल करते हुए डेरा मुखी गुरमीत सिंह राम रहीम को हत्या की साजिश रचने का आरोपी माना था।

यह भी पढ़ें : यूपी की सियासत में मची हलचल, मायावती-अखिलेश करेंगे बड़ा उलटफेर, गठबंधन पर...

फिलहाल 51 साल का राम रहीम अपनी दो अनुयायियों के बलात्कार के जुर्म में रोहतक की सुनारिया जेल में 20 साल की सजा काट रहा है। ऐसे में अब उस पर हत्या के केस में भी कोर्ट द्वारा फैसला सुनाया जाना है।

यह भी पढ़ें : 24 घंटे के अंदर ही आलोक वर्मा की हो गई पद से छुट्टी, बोले- फर्जी आरोपों के आधार पर किया...


BY : Indresh yadav