राष्ट्रीय - उत्तर से दक्षिण तक सर्द मौसम के तेवर गरम, कंपकपी इस कदर कि हवाई यात्राएं भी हुई ठप

उत्तर से दक्षिण तक सर्द मौसम के तेवर गरम, कंपकपी इस कदर कि हवाई यात्राएं भी हुई ठप



Posted Date: 06 Jan 2019

31
View
         

नई दिल्ली। ठंड के कहर से पूरा जीवन अस्त-वयस्त हो चुका है। उत्तर से लेकर दक्षिण तक पूरा भारत ठंड का प्रकोप झेल रहा है। नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आज सुबह 6 बजे से 12 बजे तक के बीच की 50 उड़ानों ने घने कोहरे की वजह से देरी से उड़ान भरी।

हालांकि पूरे शहर में वायु प्रदूषण बारिश की वजह से घटकर पीएम 2.5 तक रह गया है। आनंद विहार का प्रदूषण घटकर आज सुबह 285 हो गया है जबकि शनिवार सुबह यह 544 था। मुंडका क्षेत्र में पीएम 2.5 की रीडिंग 321 है और जबकि पिछली सुबह यह 509 था। बंगलूरू में सिंगापुर-बंगलूरू और गोवा-बंगलूरू की उड़ान को कोहरे के कारण चेन्नई डायवर्ट किया गया।

दिल्ली अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड ने कहा कि 6 दिसंबर को इंदिरा गांधी अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घने कोहरे में विमान संचालन करने के लिए पूरी तरह से तैयार हो जाएगा। इससे पहले शनिवार को 362 उड़ाने देरी से और 38 रद्द हुई थीं।

केवल इतना ही नहीं दिसंबर के पहले हफ्ते से लगातार उड़ानों में देरी और रद्द हुई हैं। जिसकी वजह से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इससे पहले 25 दिसंबर को इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर लगभग 200 उड़ानों ने खराब विजिलिबिटी की वजह से देरी से उड़ान भरी थी।

कोहरे की वजह से शहर में गाड़ी चलाना बहुत मुश्किल हो गया है विजिबिलिटी (देखने की क्षमता) काफी कम हो गई है। बंगलूरू के कोंपेगोड़ा अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोहरे के कारण सुबह 6 बजे से 12 बजे के बीच 27 उड़ानों को देरी से रवाना किया। 

बेंगलूरू के तीन क्षेत्रों में एयर क्वालिटी इंडेक्स अस्वास्थ्यकर स्तर तक पहुंच गया है। सिल्क बोर्ड एरिया में पीएम 2.5 की रीडिंग आज सुबह 152 थी। वहीं जयानगर में पीएम 2.5 रीडिंग 151 और बीटीएम क्षेत्र में 156 रिकॉर्ड की गई है। 


BY : Saheefah Khan