राष्ट्रीय - सीएम योगी का बड़ा बयान, ‘अयोध्या हमारी आन-बान और शान, मंदिर था है और रहेगा’

सीएम योगी का बड़ा बयान, ‘अयोध्या हमारी आन-बान और शान, मंदिर था है और रहेगा’



Posted Date: 07 Nov 2018

20
View
         

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिवाली के मौके पर अयोध्या में रामलला दर्शन किये। इसके साथ ही उन्होंने हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा अर्चना भी की। भगवान की आराधना करने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में मंदिर था, मंदिर है और मंदिर रहेगा, इसमें कोई संदेह नहीं है। उन्होंने कहा कि जो भी अयोध्या आता है रामलला के दर्शन जरुर करता है। अयोध्या में मंदिर बनने के सवाल पर योगी ने कहा, ''जहां तक राम मंदिर की बात है, संवैधानिक दायरे में रह कर ही सरकार काम करेगी।

भगवान राम की विशालकाय प्रतिमा के लिए जगह देखी- योगी

योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के सरयु तट पर 151 फीट राम की मंदिर बनाए जाने पर कहा, ''भगवान राम की दर्शनीय मूर्ति लगे, इसके लिए दो जगहों को मैंने देखा है। पूजनीय मूर्ति मंदिर में होती है लेकिन ये दर्शनीय होगी। जिससे अयोध्या की पहचान हो सके।

अयोध्या की सकारात्मक छवि सबके सामने रखी

सरयू तट पर तीन लाख मिट्टी के दीयों को जलाने पर योगी ने कहा, ''अयोध्या हमारे धर्म में पावन भूमि रही है। इसके बारे में सकारात्मक सोच के लिए यहां कि आध्तमिक गतिविधियों को रखना ही हमारा उद्देश्य है। दीपोत्सव से हमने इसको बताने और जताने का प्रयास किया है।

सीएम ने कहा, ‘पिछली बार जब हमने ये किया तो कई तरह की आशंकाएं थी। मैंने कई जगह अयोध्या में आज सर्वेक्षण किया। आनेवाले कुछ सालों में अयोध्या दुनिया की बेहतरीन नगरी में विकसित होगी।’

माता कौशल्या के नाम पर आश्रम

योगी ने कहा कि यहां विधवा और अनाथ बच्चों को लिए एक आश्रम बनाने की योजना है। ये आश्रम माता कौशल्या के नाम पर होगा। सीएम योगी ने कहा अयोध्या हमारी सात धार्मिक पवित्र नगरियों में से एक है। ये श्रद्धा का एक प्रमुख केंद्र है। यहां की धार्मिक, सामाजिक और सांस्कृतिक विरासत को हमने दुनिया के सामने रखा है। इससे बहुत अच्छा संदेश पूरी दुनिया में गया है।

यह भी पढ़ें.. राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी और उपराष्ट्रपति नायडू ने दी देशवासियों को दिवाली की बधाई

राम मंदिर निर्माण को लेकर चर्चाएं तेज

इससे पहले मंगलवार को सीएम योगी ने फैजाबाद का नाम अयोध्या करने की घोषणा की। सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या हमारी 'आन, बान और शान' का प्रतीक है। इसके साथ ही राम मंदिर निर्माण की चर्चाओं के बीच उन्होंने कहा कि कोई अयोध्या के साथ अन्याय नहीं कर सकता है। बता दें कि फिलहाल राम मंदिर बनाम बाबरी मस्जिद विवाद सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। शीर्ष अदालत ने पिछली सुनवाई के दौरान मामले को जनवरी तक टाल दिया था। जिसके बाद आरएसएस, वीएचपी, निर्मोही अखाड़ा समेत कई हिंदू धार्मिक संगठनों ने सरकार से राम मंदिर को लेकर संसद में कानून लाने की मांग की है।

यह भी पढ़ें.. बाबा के जलाभिषेक को केदारनाथ पहुंचे पीएम मोदी, जवानों को बांटी मिठाइयां


BY : shashank pandey


Loading...