राजनीति - ‘फिजिक्स नहीं केमिस्ट्री है राजनीति, दो के मिलने से बन जाता है तीसरा पदार्थ’ : बीजेपी के शाह

‘फिजिक्स नहीं केमिस्ट्री है राजनीति, दो के मिलने से बन जाता है तीसरा पदार्थ’ : बीजेपी के शाह



Posted Date: 11 Jan 2019

27
View
         

नई दिल्ली। अमित शाह ने उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा के गठबंधन को ढकोसला बताते हुए कहा कि ये नेता ये नहीं जानते कि राजनीति फिजिक्स नहीं है। राजनीति केमिस्ट्री है कभी-कभी दो पदार्थों के मिलने से तीसरा पदार्थ बन जाता है। उन्होंने ये बातें दिल्ली में आयोजित बीजेपी के नेशनल काउंसिल की मीटिंग में कहीं।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि यूपी में सीटों की संख्या 73 से 74 होगी 72 नहीं होगी। उन्होंने कहा कि लोग पूछ रहे हैं कि बुआ भतीजा इकट्ठा हुए तो क्या होगा। एक दूसरे का मुंह न देखने वाले, एक दूसरे के साथ सोफे पर न बैठने वाले आज साथ में हाथ हिला रहे हैं। इसलिए कि उन्हें पता चल गया है कि अगर अपना वजूद बचाना है तो मोदी के खिलाफ एक होना होगा कि क्योंकि मोदी को अकेले नहीं हराया जा सकता।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि उन्हें खुशी है कि पहले कांग्रेस वर्सेज ऑल होता था, आज मोदी वर्सेज ऑल हो गया है। उन्होंने दावा किया कि वह एनडीए के साथियों के साथ बीजेपी के पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनाएंगे। अमित शाह ने कहा कि बीजेपी ने बहुत उतार चढ़ाव देखे हैं। एक समय ऐसा आया था कि हम संसद में घटकर 2 हो गए थे। फिर बिहार में हमारा उभार हुआ गुजरात में सफलता मिली। गुजरात में सरकार बनी।

यह भी पढ़ें : आंध्रप्रदेश और पश्चिम बंगाल के नक्शेकदम पर बढ़ी छत्तीसगढ़ सरकार, CBI को किया बैन

उन्होंने कहा कि 2014 में जब हम चुनाव में गए थे तब बीजेपी की 6 राज्यों में बीजेपी की सरकार थी। आज जब 2019 का चुनाव होने जा रहा है तो बीजेपी की 16 राज्यों में सरकार है। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि 2019 में मोदी को एकबार फिर पीएम बना दीजिए हम केरल तक बीजेपी का झंडा फहरा देंगे।

यह भी पढ़ें : BJP ने तोड़ी बरसों से चली आ रही परंपरा, वाद-विवाद के बीच हिना कावरे को दिया डिप्टी स्पीकर का पद

अमित शाह ने बंगाल में जीत का दावा करते हुए कहा कि हम बंगाल में सरकार बनाने की स्थित में आ गए हैं। उड़ीसा तक पहुंच गए हैं। 2014 में हमारे 2.40 करोड़ कार्यकर्ता थे। आज पूरे देश में 11 करोड़ से ज्यादा पार्टी के कार्यकर्ता हैं। हम विश्व की सबसे बड़ी कार्यकर्ता आधारित पार्टी हैं।


BY : Yogesh