राजनीति - शाह को मिली चिठ्ठी, उड़ गए बीजेपी नेताओं के होश, ‘पदाधिकारियों की सोच पहले खुद और आखिर में पार्टी’

शाह को मिली चिठ्ठी, उड़ गए बीजेपी नेताओं के होश, ‘पदाधिकारियों की सोच पहले खुद और आखिर में पार्टी’



Posted Date: 07 Jan 2019

28
View
         

नई दिल्ली। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को एक ऐसी चिठ्ठी मिली है जिससे बीजेपी नेताओं के होश उड़े हुए हैं। इस चिठ्ठी में पार्टी नेताओं के बारे में काफी कुछ लिखा हुआ है और उनके बारे में व उनकी सोच के बारे में कई चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक शाह को यह चिठ्ठी दिल्ली बूथ मैनेजमेंट बीजेपी के प्रभारी धरमवीर सिंह ने लिखी है। इस चिठ्ठी में उन्होंने दिल्ली बीजेपी के कोर ग्रुप के नेताओं पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इसके अलावा धरमवीर ने चिठ्ठी के जरिए आगामी लोकसभा चुनावों से पहले जरुरी सुधारपूर्ण कदम उठाने की मांग भी की है।

उन्होंने पार्टी की विचारधारा का हवाला देते हुए कहा कि नेशन फर्स्ट, पार्टी सेकंड और खुद (निजी हित) आखिर में वाली विचारधारा के विपरीत दिल्ली यूनिट के पदाधिकारियों की सोच पहले खुद और आखिर में पार्टी है। उन्होंने लिखा कि कोर ग्रुप के नेता अपने चहेतों को टिकट दिलाने और कार्यक्रमों में सिर्फ मंच साझा करने की होड़ में लगे रहते हैं।

बता दें कि धरमवीर सिंह ने इंदिरा गांधी इंटरनेशनल (IGI) स्टेडियम में दिल्ली के बूथ स्तरीय कार्यकर्ता मीटिंग में अहम भूमिका निभाई थी। इस दौरान पार्टी के 12,000 कार्यकर्ता बैठक में मौजूद थे। इस कार्यक्रम के तीन दिन बाद ही उन्होंने शाह को पत्र लिखकर अपनी नाराजगी जाहिर की है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, सिंह ने कहा कि मेरे ख़्याल से बतौर बतौर बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं का प्रमुख होने के नाते मेरा कर्तव्य है कि मैं पार्टी के भीतर जो भी गलत चीजें हो रही हैं उसे बीजेपी अध्यक्ष तक पहुंचाऊं।

धरमवीर सिंह की शिकायत पर दिल्ली बीजेपी के महासचिव राजेश भाटिया ने कहा कि सिंह पार्टी के एक सीनियर कार्यकर्ता हैं। हम एक लोकतांत्रिक दल हैं इसलिए यहां लोगों का अधिकार है कि वे अपने विचार जाहिर कर सकें। हम जरूर उन्हें सुनेंगे और पार्टी की बैठक में उनकी परेशानियों का समाधान करेंगे।

यह भी पढ़ें : गडकरी ने मचा दी सियासी गलियारो में हलचल, इंदिरा गांधी के बारे में बोल गए कुछ ऐसा कि...

धरमवीर ने कहा कि ऊंचे पदों पर बैठे अधिकांश नेताओं की रुचि संगठन के कामों में नहीं है। वे सिर्फ वरिष्ठ नेताओं से मिलने, राज्य इकाई में किसी भी बड़े कार्यक्रम का क्रेडिट लेने और महत्वपूर्ण नेताओं को गुमराह करने में व्यस्त रहते हैं। धरमवीर की इस चिठ्ठी के बाद अब इस पर अमित शाह कोई एक्शन लेते हैं या नहीं फिलहाल इस पर सभी बीजेपी नेताओं की नजरें टिकी हुई हैं।

यह भी पढ़ें : 2019 लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी-शिवसेना आमने-सामने, शाह के वार पर ठाकरे ने किया पलटवार


BY : Indresh yadav