राष्ट्रीय - मुख्यमंत्री को डाकू कहना पड़ा मंहगा, डीएम ने हेडमास्टर को किया निलंबित

मुख्यमंत्री को डाकू कहना पड़ा मंहगा, डीएम ने हेडमास्टर को किया निलंबित



Posted Date: 11 Jan 2019

44
View
         

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को डाकू कहना एक सरकारी अध्यापक को भारी पड़ गया है। मामले के सुर्खियों में आते ही टीचर को निलंबित कर दिया गया है। टीचर पर कार्रवाई जिला कलेक्टर छवि भारद्वाज ने की है। हालांकि, जानकारी के मुताबिक, निलंबन की अवधि में हेडमास्टर जिला शिक्षा कार्यालय में ही पदस्थ रहेंगे। वहीं कलेक्टर का कहना है कि जांच शिक्षा अधिकारी की रिपोर्ट के बाद ही फैसला लिया गया है।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, यह मामला मध्य प्रदेश के जलबपुर स्थित शासकीय कनिष्ठ बुनियादी प्राथमिक शाला का है। जहां हेडमास्टर पद पर तैनात मुकेश तिवारी ने प्रदेश के नव निर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ के बारे में अपशब्दों का प्रयोग किया। तिवारी ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान हमारे हैं, जबकि कमलनाथ एक डाकू हैं। जब वह यह बातें कर रहे थें तो किसी ने उनकी इस टिप्पणी को मोबाइल में कैद कर लिया और सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। इसके बाद वीडियो वायरल हो गया।

निलंबन की उठी थी मांग

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने टीचर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और मामले में मुकेश तिवारी के खिलाफ कलेक्टर के पास शिकायत की। कांग्रेसियों ने मांग की कि मुख्यमंत्री के खिलाफ इस तरह की बात करने वाले हेडमास्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। कांग्रेस ने यह चेतावनी भी दी थी कि अगर हेडमास्टर के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है, तो पार्टी अपने स्तर पर प्रयास करेगी।

यह भी पढ़ें.. बलात्कार के जुर्म में सजा काट रहे राम रहीम की बढ़ीं मुश्किलें, हत्या के मामले में कोर्ट सुनाएगी फैसला

डीएम ने लिया एक्शन

कांग्रेसियों के अल्टीमेटम के बाद वीडियो की जांच करवाई गई और पाया गया कि हेडमास्टर ने सीएम कमलनाथ के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया है। इसके चलते कलेक्टर छवि भारद्वाज ने हेडमास्टर मुकेश तिवारी को उनके पद से निलंबित कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें.. 24 घंटे के अंदर ही आलोक वर्मा की हो गई पद से छुट्टी, बोले- फर्जी आरोपों के आधार पर किया...


BY : shashank pandey