राष्ट्रीय - राफेल डील में सामने आया सबसे बड़ा सच, मिशेल को लेकर हुआ बड़ा खुलासा

राफेल डील में सामने आया सबसे बड़ा सच, मिशेल को लेकर हुआ बड़ा खुलासा



Posted Date: 07 Jan 2019

49
View
         

नई दिल्ली। राफेल डील को लेकर इन दिनों पूरे देश में घमासान मचा हुआ है। इस मसले पर लोकसभा में भी हंगामा चल रहा है। जहां एक तरफ राहुल गांधी ने इस डील को लेकर बीजेपी समेत पीएम नरेंद्र मोदी पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए चौकीदार ही चोर है का नारा दिया है। वहीं दूसरी तरफ इस मसले पर विगत दिनों लोकसभा में बीजेपी की तरफ से रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और अरुण जेटली ने कांग्रेस के सवालों के जवाब देते हुए मामले पर अपना पक्ष रखा।

ऐसे में अब इस मसले पर वीवीआईपी हेलिकॉप्टर अगस्ता वेस्टलैंड डील में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, जब यूपीए सरकार राफेल को लेकर डील कर रही थी उस दौरान मिशेल राफेल विमान के खिलाफ सौदेबाजी कर रहा था। बता दें कि मिशेल फिलहाल अगस्ता वेस्टलैंड मामले में सीबीआई की हिरासत में है। उसका भारत प्रत्यर्पण सीबीआई समेत भारत सरकार की बड़ी कामयाबी माना जा रहा है।

इंडिया टुडे के पास मौजूद दस्तावेजों की मानें तो इटली के बिचौलिया गुइडो हस्चके के घर से जो सबूत मिले हैं उनमें मिशेल और गुइडो हस्चके का नाम शामिल हैं, जोकि टाइफून के लिए लॉबिंग कर रहे थे।

कागजों के मुताबिक, मिशेल और उसके जोड़ीदार कह रह थे कि इस काम के लिए सिर्फ 3 कैंडिडेट हैं इनमें से एक ही उपलब्ध है। इसमें कहा गया है कि नेताओं के अलावा एयरफोर्स के तीन प्रमुखों को भी मनाने की जरूरत है, इनमें चीफ ऑफ एयर कमांड, एयर ऑफिसर मेंटेनेंस और चीफ ऑफ इंजीनियरिंग शामिल थे।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, 2007 में जब भारत की ओर से 126 मीडियम मल्टी रोल एयरक्राफ्ट खरीदने की बात कही गई, तो कई कंपनियों ने बोली लगाई। तब फ्रांस के राफेल के सामने कुल 5 कंपनियां इस जद्दोजहद में थीं। 2011 तक सिर्फ दो ही विमान आमने-सामने थे, एक दसॉल्ट राफेल और दूसरा यूरोफाइटर टाइफून। क्रिश्चियन मिशेल यूरोफाइटर टाइफून की ओर से मैदान में था।

यह भी पढ़ें : बीजेपी सांसद के विवादित बोल, कहा- तनख्वाह से कोई अपना चुनाव क्षेत्र नहीं चला सकता, चोरी तो...

अगस्ता वेस्टलैंड के अलावा राफेल मसले में भी मिशेल का नाम सामने आने से सियासी गलियारों में हलचल मच गई है। चूंकि मिशेल पहले से ही सीबीआई की गिरफ्त में है ऐसे में उसके द्वारा कई खुलासे किए जाने की संभावना जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें : शाह को मिली चिठ्ठी, उड़ गए बीजेपी नेताओं के होश, ‘पदाधिकारियों की सोच पहले खुद और आखिर में पार्टी’


BY : Indresh yadav