राष्ट्रीय - लोकसभा में हंगामा कर रहे TDP-AIADMK सांसदों पर स्पीकर की कार्रवाई, 5 दिनों के लिए निलंबित

लोकसभा में हंगामा कर रहे TDP-AIADMK सांसदों पर स्पीकर की कार्रवाई, 5 दिनों के लिए निलंबित



Posted Date: 07 Jan 2019

53
View
         

नई दिल्ली। संसद के दोनों सदन में आज एक बार फिर विपक्षी दलों का जोरदार हंगामा हुआ। सोमवार को लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर संसद में झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए सदन में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने राफेल मुद्दे पर एक बार फिर जेपीसी (ज्वाइंट पार्लियामेंट कमेटी) की मांग की है। उसके बाद विपक्षी दलों ने हंगामा शुरू कर दिया।

स्पीकर सुमित्रा महाजन ने हंगामा शांत कराने की कोशिश की। लेकिन सांसद नहीं माने फिर स्पीकर सुमित्रा महाजन ने AIADMK के तीन और टीडीपी के एक सांसद को संसद की कार्यवाही से तत्काल निलंबित कर दिया। निलंबित हुए सभी सांसद पांच दिनों तक संसद की कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले सकेंगे। सस्पेंड होने वाले सांसदों में AIADMK के पी वेणुगोपाल, केएन रामचंद्रण और के गोपाल है। वहीं टीडीपी के एन शिवप्रसाद हैं।

दरअसल, सोमवार को प्रश्नकाल शुरू होने के साथ ही कावेरी नदी पर बांध निर्माण का विरोध करते हुए अन्नाद्रमुक और आंध्र प्रदेश के लिए विशेष दर्जे की मांग करते हुए टीडीरपी सदस्य आसन के निकट पहुंच गए। हंगामे के बीच ही टीडीपी सदस्य एन. शिवप्रसाद अपने हाथ में चाबुक ले कर आसन के पहुंच गए और उससे खुद को मारने लगे। इस पर स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि यह ठीक नहीं है। सुमित्रा महाजन ने हंगामा कर रहे सदस्यों को अपने स्थान पर जाने कहा, लेकिन शोर-शराबा नहीं थमता देख उन्होंने कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

कार्यवाही स्थगित होते ही टीडीपी सदस्य शिवप्रसाद ने सदन में एक ऑडियो प्लेयर ऑन कर दिया जिससे तेज आवाज में एक दक्षिण भारतीय गाना बजने लगा। इस आडियो प्लेयर को बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने बंद किया। कार्यवाही दोबारा शुरु होने पर दोनों पार्टियों के सदस्य फिर आसन के निकट पहुंचकर नारेबाजी करने लगे।

शिवप्रसाद आसन के पास पहुंचकर करताल बजाने लगे। लोकसभा अध्यक्ष ने हंगामा कर रहे सदस्यों को चेतावनी देते हुए कहा कि वे अपने स्थान पर जाएं, नहीं तो ‘मैं नेम करूंगी।’ चेतावनी के बावजूद जब हंगामा कम नहीं हुए तो स्पीकर ने चार सदस्यों को सत्र के शेष कामकाजी दिनों के लिए सदन से निलंबित कर दिया।

पिछले दिनों भी सांसद हुए थे निलंबित

मालूम हो कि 2 जनवरी को भी लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने टीडीपी और एआएडीएमके के सांसदों को निलंबित किया था। उस समय कावेरी नदी पर बनने वाले डैम और रफाल मुद्दे पर सांसद हंगामा कर रहे थे। विपक्ष ने लोकसभा और राज्यसभा के अंदर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

यह भी पढ़ें.. इस ख़ास वेडिंग कार्ड की सोशल मीडिया पर धूम, डिजायनिंग और प्रेजेंटेशन देख लोग हो रहे दंग

कावेरी नदी पर बांध को लेकर लोकसभा में AIADMK के कुछ सांसद स्पीकर की वेल में आकर हंगामा करने लगे। यहां तक प्रदर्शनकारी सांसदों ने कागज के कुछ टुकड़ों को फाड़कर अध्यक्ष के आसन की तरफ फेंका था। इससे नाराज लोकसभा स्पीकर ने सांसदों को जमकर फटकार लगाई। इसके बाद स्पीकर ने AIADMK और टीडीपी के 22 सांसदों को पांच दिनों के लिए निलंबित के निर्देश दे दिए।

यह भी पढ़ें.. मुख्यमंत्री के फरमान पर यूपी पुलिस ने शुरु किया Cow सर्च ऑपरेशन, सड़क पर दौड़ते दिखाई दिये DM-SP


BY : shashank pandey