अंतरराष्ट्रीय - भारतीय दूतावास समेत कई अन्य डिप्लोमैटिक मिशन में मिले संदिग्ध पैकेज

भारतीय दूतावास समेत कई अन्य डिप्लोमैटिक मिशन में मिले संदिग्ध पैकेज



Posted Date: 09 Jan 2019

58
View
         

मेलबर्न। ऑस्ट्रलिया के मेलबर्न स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास व अन्य कई राजनयिक मिशन में संदिग्ध पैकेज मिले हैं। इनमें अकेल मेलबर्न के इटरनेशनल कॉनस्यूलेट्स से ही करीब 10 ऐसे पैकेज प्राप्त किये गये हैं। इन पैकेजों की जानकारी मिलते ही परिसर में हंगामा मच गया। मामले की सूचना पाते ही फायर ब्रिगेड और एंबुलेस भारतीय और अमेरिकी दूतावास के बाहर मौके पर पहुंच गई।

ऑस्ट्रेलियन फेडेरल पुलिस इसकी पुष्टी करते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट किया। पुलिस ने लिखा, ‘दूतावासों में मिले संदिग्ध पैकेजों के बाद पुलिस और इमरजेंसी सर्विस ने एक्शन लिया। पैकेजों की जांच की जा रही है। परिस्थितियों की भी जांच की जा रही है।’

संदिग्ध पैकज मिलने के बाद माना जा रहा है कि मेलबर्न के आसपास स्थित ब्रिटेन का दूतावास, जर्मन, इटैलियन, कोरियन, स्विस, इंडोनेशिया के वाणिज्य दूतावास भी प्रभावित हो सकते हैं। आपातकाल कर्मियों ने केमिकल सूट पहन लिए हैं। उन्हें कई बिल्डिंगों में जाते हुए देखा गया है।

क्या है भारतीय राजनयिक मिशन?

भारत का आपेक्षित रूप से एक विशाल राजनयिक समाज (तंत्र) है, जो इसके विश्व में सम्बंधों को दर्शाता है। यह विशेष रूप से पड़ोसी क्षेत्रों- मध्य एशिया, मध्य पूर्व, पूर्वी अफ्रीका, दक्षिण पूर्व एशिया और भारतीय उपमहाद्वीप में सम्बंधों को प्रतिबिम्बित करता है। इसके अलावा कैरिबियाई और प्रशान्त महासागरीय क्षेत्रों में भी जहां ऐतिहासिक रूप से प्रवासी भारतीय रहते हैं, भारत के मिशन (उच्चायोग) मौजूद हैं।

राष्ट्रमण्डल देश के रूप में, अन्य राष्ट्रकुल सदस्य राष्ट्रों की राजधानियों में भी भारतीय राजनयिक मिशन उच्च आयोगों के रूप में स्थापित हैं। राष्ट्रकुल देशों के अन्य नगरों में स्थित अपने वाणिज्य दूतावासों को भारत में "सहायक उच्च आयोग" कहा जाता है।

यह भी पढ़ें.. तिब्बत में युद्ध की तैयारी कर रही चीनी सेना, 50 किलोमीटर से अधिक रेंज वाली तोप से है लैस

किसे कहते हैं राजनयिक मिशन?

राजनयिक मिशन का मतलब किसी देश या अंतरराष्ट्रीय, अन्तर-सरकारी संस्था  लोगों के उस समूह से है जो किसी दूसरे देश या अंतरराष्ट्रीय अन्तर-सरकारी संस्था में रहते हुए आधिकारिक तौर पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करते हैं।

यह भी पढ़ें.. रिपोर्ट : इन देशों के बच्चे हो रहे मानव तस्करी का शिकार, हर तीसरा पीड़ित एक ‘बच्चा’


BY : shashank pandey