राजनीति - मोदी के कदम पड़ने से पहले ओझल हुई गरीबी! ना दिखे नामोनिशान इसलिए चलाया गया संयुक्त अभियान

मोदी के कदम पड़ने से पहले ओझल हुई गरीबी! ना दिखे नामोनिशान इसलिए चलाया गया संयुक्त अभियान



Posted Date: 09 Jan 2019

52
View
         

नई दिल्ली। एक ओर जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को विकास के पथ पर अग्रसर करने का दम भरते हैं, गरीबी को जड़ से उखाड़ने की बात करते हैं, वहीं आगरा में आयोजित उनकी रैली से पूर्व कुछ और ही नजारा देखने को मिला। यहां कवायद इस बात की हो रही है कि पीएम मोदी जब यहां पधारें तो उनके सामने ना तो यहां की गरीबी आए और ना ही उन मजलूमों का दर्द जो चार सालों के अच्छे दिन वाले कार्यकाल के अंतिम पड़ाव पर भी सिर छुपाने को आसार और दो जून की रोटी से महरूम हैं।

खबरों के मुताबिक़ आगरा में आज यानी बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक कार्यक्रम प्रस्तावित है। कार्यक्रम के दौरान शहर में न गरीबी नजर आएगी और न ही गंदगी।

दरअसल प्रशासन ने कार्यक्रम स्थल के आसपास मकानों की दीवारों पर रंग रोगन कराया है। वहीं गरीबों की झोपड़ियों को उजाड़ दिया गया है। जबकि कुछ को पर्दे से ढंका दिया गया है।

बताया जा रहा है कि कोठी मीना बाजार मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा के मद्देनजर प्रशासन ने मंगलवार को कोठी मीना बाजार के आसपास अस्थायी रूप से झोपड़ियां डालकर रहे गरीबों को उजाड़ दिया। पुलिस, प्रशासन और नगर निगम के संयुक्त अभियान के तहत कार्रवाई की गई।

मंगलवार को चले संयुक्त अभियान में आसपास की झोंपड़ियों को भी ध्वस्त कर दिया। इस कार्रवाई के पीड़ितों का कहना है कि प्रशासन ने उन्हें समय तक नहीं दिया।

यदि पहले बता दिया होता तो वे स्वयं अपना सामान हटा लेते। वहीं मैदान से दूर की कुछ झोपड़ियों को पर्दे से ढंक दिया गया है। वहां पुलिस बल तैनात रहेगा।

पुलिस चौकी के पास पेड़ पौधे बेचने को वालों को हटाने की कवायद की जा रही है। वहीं कुछ नर्सरी संचालकों को छोड़ दिया गया है।

यह भी पढ़ें : मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए हूडी चैलेंज, अनुराग ठाकुर ने पहनी अनोखी शर्ट, मोदी बोले कि...

दरअसल उन्हें ताकीद की गई है। वे काम बंद रखेंगे। प्रशासन वहां पर्दा लगाएगा। पुलिस बल तैनात रहेगा। वहीं आसपास बने मकानों की दीवारों पर पुताई कर दी गई। 

बता दें कोठी मीना बाजार मैदान में, रावत पेट्रोल पंप की ओर, डाइट परिसर की ओर और नगर निगम के हॉस्पिटल (गरीब खाने) की ओर बड़ी संख्या में बेघर बेसहारा लोग झोपड़ियां डालकर अपने परिवार के साथ रहते हैं। कोठी मीना बाजार मैदान में निवास करने बंजारे समाज के तंबू डेरे तो वहां सभा की तैयारियों के साथ ही हटा दिए गए थे। 

यह भी पढ़ें : मध्यम वर्ग को साधने के लिए केंद्र की जबरदस्त स्कीम, आरक्षण के बाद ये बड़ी सौगातें देने की तैयारी


BY : Ankit Rastogi