राजनीति - राष्ट्रीय परिषद की बैठक में तय होगी बीजेपी की रणनीति, लगेगा दिग्गज नेताओं का तांता, सैंकड़ों रूम बुक

राष्ट्रीय परिषद की बैठक में तय होगी बीजेपी की रणनीति, लगेगा दिग्गज नेताओं का तांता, सैंकड़ों रूम बुक



Posted Date: 07 Jan 2019

112
View
         

नई दिल्ली। तीन राज्यों में हार के बाद लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी सचेत हो गई है। आने वाली 11 और 12 जनवरी को बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में पार्टी की आगामी रणनीति तय हो सकती है। बीजेपी की यह बैठक दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाली है। जिसके चलते दिल्ली में देशभर से बीजेपी के दिग्गज नेताओं का मेला लगने वाला है। बैठक के लिए बीजेपी द्वारा युद्वस्तर पर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। इन तैयारियों के तहत मेहमानों के ठहरने के लिए पार्टी की तरफ से करीब 2500 कमरे विभिन्न होटलों और भवनों में बुक कराए गए हैं।

रामलीला मैदान में बनेगा अस्थाई पीएमओ

सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी की यह राष्ट्रीय परिषद की बैठक बेहद खास होने वाली है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस कार्यक्रम में रामलीला मैदान में अलग से अस्थाई पीएमओ का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा यहां बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के लिए भी निवास स्थान और दफ्तर का निर्माण किया जा रहा है। वहीं देशभर के विभिन्न राज्यों से यहां आने वाले बीजेपी मुख्यमंत्रियों के ठहरने के लिए सीएम लाऊंज का बंदोबस्त किया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, अन्य राज्यों से आने वालों को किसी प्रकार की समस्या न हो, इसके लिए रेलवे स्टेशनों व हवाई अड्डे से लेकर होटलों के आस-पास पार्टी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई जाएगी। इसके अलावा बीजेपी ने स्टेशन-हवाई अड्डे से लोगों को आयोजनस्थल तक लाने के लिए योजना बना ली है, जिसके तहत तकरीबन एक हजार से अधिक वाहन इस काम में लगाए जाएंगे।

बीजेपी की ओर से इस बारे में पत्रकारों को जानकारी दी गई कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नजदीक पड़ने वाले करोलबाग और पहाड़गंज इलाकों के होटलों में लगभग 2500 कमरे बुक हो चुके हैं, जबकि अलग-अलग राज्यों के भवनों में लोगों के रुकने के लिए कमरों का इंतजाम रखा जाएगा।

जबकि पार्टी ने अपनी राष्ट्रीय परिषद की बैठक के आयोजन को शानदार बनाने के लिए 24 विभिन्न विभाग बनाए हैं। इन विभागों की जिम्मेदारी बीजेपी के सीनियर नेताओं को सौंपी गई है। उन्हीं के नेतृत्व में सारा इंतजाम किया जा रहा है। संभावना जताई जा रही है कि इस बैठक में बीजेपी के लगभग सभी महत्वपूर्ण नेता और पदाधिकारी शामिल होंगे। इसके साथ ही आगामी लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी आत्ममंथन करने के साथ ही भविष्य की योजनाओं पर भी विचार विमर्श कर सकती है।

यह भी पढ़ें : शाह को मिली चिठ्ठी, उड़ गए बीजेपी नेताओं के होश, ‘पदाधिकारियों की सोच पहले खुद और आखिर में पार्टी’

यह भी पढ़ें : अब सवर्णों को भी मिलेगा आरक्षण, संविधान में नहीं है व्यवस्था तो सरकार करेगी संशोधन


BY : Indresh yadav