राजनीति - BJP ने तोड़ी बरसों से चली आ रही परंपरा, वाद-विवाद के बीच हिना कावरे को दिया डिप्टी स्पीकर का पद

BJP ने तोड़ी बरसों से चली आ रही परंपरा, वाद-विवाद के बीच हिना कावरे को दिया डिप्टी स्पीकर का पद



Posted Date: 11 Jan 2019

60
View
         

भोपाल। भाजपा को पराजित कर के मध्य प्रदेश में सत्ता में आयी कांग्रेस पार्टी की हिना कावरे विधानसभा की डिप्टी स्पीकर बनी। उनके पिता लखीराम कावरे भी कांग्रेस की सक्रिय राजनीति का हिस्सा रहे थे। उन्होंने तीन बार किरनापुर सीट से विधानसभा चुनाव जीता था तथा राज्य की दिग्विजय सरकार में ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर भी रहे थे। 1999 में उनको नक्सलियों ने उनके घर के बाहर गोलियों से भून डाला था।

पिता की मौत के बाद हिना की मां पुष्पलता ने उसी सीट से दो बार चुनाव जीता। हालांकि अब वह सीट अस्तित्व में नहीं रही। परिसीमन के बाद किरनापुर सीट समाप्त कर दी गई। हिना ने 2013 में लांजी से अपना पहला चुनाव लड़ा था। इस बार कांग्रेस की सत्ता आने के बाद उन्हें मंत्रिमंडल में कोई पद न मिलने के कारण सवाल उठने लगे थे। तब हिना ने कहा था कि हो सकता है मुझे मंत्री पद न देने के पीछे कोई कारण हो।

यह भी पढ़ें.. मिशन 2019 के लिए बीजेपी तैयार, अब तक की सबसे बड़ी राष्ट्रीय परिषद बैठक, हजारों कार्यकर्ता जुटेंगे

विधानसभा में विपक्ष के हंगामे और आपत्ति के बीच कांग्रेस ने उन्हें डिप्टी स्पीकर नियुक्त कर दिया। वहीं, राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा ने इस पद के लिए जगदीश देवड़ा का नाम आगे किया था। करीब तीन दशक से चली आ रही परंपरा के मुताबिक, विधानसभा स्पीकर सत्ता दल और डिप्टी स्पीकर विपक्ष का होता है। लेकिन इस बार विपक्षी भूमिका में आई बीजेपी ने स्पीकर पद के लिए अपना कैंडीडेट उतार दिया। इसे देखते हुए कांग्रेस ने डिप्टी स्पीकर पद पर हिना कांवरे को नियुक्त कर दिया।

राजनीतिक परिवार से संबद्ध रखने वाली हिना का कहना है कि उन्होंने बचपन से राजनीति देखी है इसलिए वह किसी पद की लालच नहीं रखती हैं और निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा करना चाहती हैं।

यह भी पढ़ें.. आखिर क्या संदेश देना चाहते हैं राज ठाकरे पीएम को, खास पारिवारिक कार्यक्रम में राहुल को बुलाया मोदी को नहीं!


BY : Saheefah Khan