राष्ट्रीय - भूकंप : चौबीस घंटे के भीतर दूसरी बार हिली जम्मू-कश्मीर की धरती

भूकंप : चौबीस घंटे के भीतर दूसरी बार हिली जम्मू-कश्मीर की धरती



Posted Date: 11 Jan 2019

96
View
         

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में पिछले चौबीस घंटों के भीतर लगातार दो भूकंप के झटके महसूस किये गये। मिली जानकारी के मुताबिक, राजधानी श्रीनगर में शुक्रवार को रिक्टर पैमाने पर 3।0 की तीव्रता के भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। इस दौरान किसी के हताहत होने या नुकसान की खबर नहीं है।

आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारी ने बताया कि भूकंप सुबह 8।21 बजे 10 किलोमीटर की गहराई में दर्ज किया गया। भूकंप का केंद्र जम्मू-कश्मीर क्षेत्र रहा। उन्होंने कहा, ‘भूकंप का केंद्र 34।1 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 74।8 डिग्री पूर्वी देशांतर में स्थित था।’

लगातार दूसरे दिन आया भूकंप

अधिकारी ने बताया कि घाटी में पिछले 24 घंटे के अंदर यह लगातार दूसरा भूकंप का झटका आया है। इससे पहले गुरुवार सुबह भी जम्मू-कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। यह झटके 4।6 तीव्रता के थे। भूकंप का केंद्र लेह से 63।6 किलोमीटर उत्तर में था, वहीं कारगिल से इसकी दूरी 193।1 किलोमीटर थी।

यह भी पढे़ं.. राजनीतिक दलों की मनमानी होगी खत्म, अब वोटिंग से 72 घंटे पहले जारी करना होगा ‘घोषणा पत्र’

लगातार आए इन दो भूकंप के झटकों से घाटी के लोगों में डर का माहौल है। कई जगह लोग ठंड के मारे न तो घर से बाहर निकल पा रहे थे और भूकंप के डर से घर में रुकने से भी डर रहे थे।

आईआईटी रुड़की ने बनाया वॉर्निंग सिस्टम, भूकंप आने से करेगा अलर्ट

उधर, आईआईटी रुड़की के वैज्ञानिकों ने भूकंप से बचाव के लिए एक खास यंत्र निर्माण करने का दावा किया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, उन्होंने भूकंप की चेतावनी देने वाली एक ऐसी प्रणाली विकसित की है, जिसमें भूकंप से एक मिनट पहले लोगों को इसके आने की जानकारी मिल सकती है।

यह भी पढ़ें.. मुख्यमंत्री को डाकू कहना पड़ा मंहगा, डीएम ने हेडमास्टर को किया निलंबित

उत्तराखंड के कुछ इलाके में पहले से ही ऐसी प्रणाली लगी हुई है जिसमें ऐसे नेटवर्क सेंसर लगे हुए हैं जो भूकंप के बाद पृथ्वी के परतों से गुजरने वाले भूकंपीय तरंगों की पहचान करती है।


BY : shashank pandey