अंतरराष्ट्रीय - चीन में नया कानून पारित, मुसलामानों को चीनी कानून के हिसाब से ढालना होगा इस्लाम

चीन में नया कानून पारित, मुसलामानों को चीनी कानून के हिसाब से ढालना होगा इस्लाम



Posted Date: 06 Jan 2019

56
View
         

बीजिंग चीन ने एक नया कानून पारित किया है, जो अगले पांच वर्षों के भीतर इस्लाम को चीन के समाजवाद के हिसाब से बदलने का का प्रयास करता है। देश में धर्म का पालन कैसे किया जाए, इसे फिर से लिखने के लिए चीन का यह नया कदम है। मीडिया ने रविवार को यह जानकारी दी।

नए कानून के मुताबिक अगले पांच वर्षों के अंदर मुस्लिमों को चीनी संस्कृति सीखनी होगी। यह एक तरह से साइनिकाइजेशन (Sinicization) की प्रक्रिया है। साइनिकाइजेशन एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसके द्वारा गैर-चीनी समाज चीनी संस्कृति विशेषकर हान चीनी संस्कृति और सामाजिक मानदंडों के प्रभाव में आते हैं।

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, चीनी सरकार के अधिकारियों ने आठ इस्लामी एसोसिएशन के प्रतिनिधियों से मुलाकात के बाद यह कदम उठाया। रिपोर्ट में लिखा है, अधिकारी इस्लाम को समाजवाद के साथ संगत करने और धर्म को परिभाषित करने के उपायों को लागू करने के लिए मार्गदर्शन करने के लिए सहमत हो गए हैं। अभी तक कानून को लागू करने के लिए उपयोग की जाने वाली सटीक कार्यप्रणाली का विभाजन नहीं किया गया है।

ज्ञात हो कि चीन में उइगर मुसलमानों के साथ दुर्व्यवहार के मामले सामने आते रहे है। लोगों का कहना है कि चीनी सरकार ने यहां के मुसलामानों का जीवन जहन्नुम बना दिया है। पिछले साल यह जानकारी सामने आई थी कि शिनजियांग प्रांत में बड़ी संख्या में उइगर मुस्लिमों को एक खास तरह के कैंपों में नजरबंद कर रखा गया है। जिसको लेकर चीन की सरकार की दुनियाभर में कड़ी निंदा हो रही है। खुलासा हुआ है कि चीन द्वारा कैम्पों में बंदी बनाए गए मुस्लिमों की तादात लाखों में है। इनकी संख्या करीब 10 लाख है जिन्हें बारा शिक्षा दी जा रही है। चीनी सैनिकों, पुलिस और उइगर मुस्लिमों के अलावा किसी और का इन कैंपों तक जाना बेहद मुश्किल है, क्योंकि यहां बाहरी लोगों और पत्रकारों को आने पर पाबंदी है। हालांकि चीन इस बात को शुरू से नकारता रहा है।

ज्ञात हो कि चीन के कुछ हिस्सों में इस्लाम धर्म का पालन करने की मनाही है। मुस्लिम शख्स को नमाज अता करने पर, रोजा रखने पर, दाढ़ी बढ़ाने या महिाल को हिजाब पहने पाए जाने पर गिरफ्तारी का सामना करना पड़ सकता है।

थमना तो दूर, तेजी से बढ़ रही चीन की जनसंख्या, 2029 तक 1.44 अरब होने का दावा


BY : ANKIT SINGH