आजमगढ़ - नहीं बच पाएंगे अपराधी, एक बटन दबाते ही पता चल जाएगा ठिकाना

नहीं बच पाएंगे अपराधी, एक बटन दबाते ही पता चल जाएगा ठिकाना



Posted Date: 10 Jan 2019

36
View
         

आज़मगढ़। अब जिले में ऐसी नई टेक्नोलॉजी आ रही है जिसके द्वारा एक क्लिक करने पर अपराधियों का पूरा रिकार्ड सामने आ जाएगा। ये क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग एंड नेटवर्किंग सिस्टम ‘सीसीटीएनएस’ ई प्रिज़न और ई कोर्ट को आपस में जोड़ेगा। केंद्र सरकार की ओर से ये इंटर ऑपरेबल क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम तैयार किया गया है।

उत्तर प्रदेश मे 27-28 नवंबर को लखनऊ रेंज स्तर के पुलिस अधिकारियों का प्रशिक्षण हुआ। इसमें जनपद से डीआईजी विजय भूषण शामिल हुए। इसके लागू होने से अपराधी का अपराधिक इतिहास, जेल रिकार्ड आदि की जानकारी एक क्लिक पर सामने होगी। अभी तक अपराधियों के पकड़े जाने पर उनका अपराधिक रिकार्ड पता करने में पुलिस को माथापच्ची करनी पड़ती है।

यह भी पढ़ें.. विकास की ओर एक कदम और बढ़ा आज़मगढ़, इतने करोड़ से होगा विकास

यहां तक कि कोर्ट की कार्यवाही के बारे में भी पुलिस को पता नहीं लग पाता है। जेल से छूटने वाले अपराधियों के बारे में जानने में भी पुलिस को मशक्कत करनी पड़ती है। अब अपराधी का इतिहास, जेल जाने का रिकार्ड, अपराधी कहां है ये सब केवल एक क्लिक पर ही कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगा। इससे देशभर के अपराधियों को पकड़ने से लेकर सज़ा सुनाने तक का रिकार्ड साझा किया जाएगा।

यह भी पढ़ें.. मुबारकपुर की पॉटरी कला का दीदार करेंगे गोरखपुर के लोग, सीएम के हाथों होगा उद्घाटन

इसे शुरु करने के लिए लखनऊ में प्रशिक्षण दिया गया, जिसमें मंडल से डीआईजी विजय भूषण शामिल हुए। प्रशिक्षण में इस सिस्टम की उपयोगिता और वर्किंग के बारे में बताया गया। अपराधियों की डिटेल्स के अलावा इसमें पुलिस की ऑनलाइन केस डायरी, चार्जशीट और एफआर सभी को एक क्लिक पर देखा जा सकेगा। इसके अलावा कोर्ट के निर्णय, रिमांड समेत अन्य जानकारी पुलिस ऑनलाइन देख सकेगी।


BY : Saheefah Khan