राजनीति - सामने आया बिहार के मंत्रियों की संपत्ति का चौकाने वाला ब्यौरा, आंकड़े कर देंगे सोचने को मजबूर

सामने आया बिहार के मंत्रियों की संपत्ति का चौकाने वाला ब्यौरा, आंकड़े कर देंगे सोचने को मजबूर



Posted Date: 06 Jan 2019

20
View
         

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों के नजदीक आते ही बिहार सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल सभी नेताओं ने अपनी-अपनी संपत्ति का ब्यौरा देना शुरू कर दिया है। बता दें बिहार में नेताओं द्वारा अपनी संपत्ति की जानकारी साझा करने का चलन साल 2011 से है। इसी चलन के तहत इस बार भी सबने अपनी संपत्ति की जानकारी शेयर की है। मंत्रिमंडल में शामिल सभी लोगों द्वारा शेयर की जानकारी ने इस बात का खुलासा किया कि यहां के अधिकतर मंत्री करोड़पति हैं। वहीं इस बात की जानकारी सामने आई कि मंत्रियों द्वारा सार्वजनिक संपत्ति के मुकाबले उनके परिजनों की संपत्ति का आंकड़ा कई गुना ज्यादा है। इस फेहरिस्त में बिहार के सीएम नीतीश कुमार का भी नाम शामिल है।

बता दें सीएम नीतीश ने 56 लाख रुपए से अधिक की संपत्ति होने की जानकारी दी जबकि उनके बेटे के पास पिता से कई गुना ज्यादा चार करोड़ रुपए की संपत्ति है। इसमें कृषि भूमि और पुश्तैनी मकान शामिल हैं।

खबरों के मुताबिक़ 6 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति के साथ, बिहार के पशुपालन मंत्री पशुपति कुमार पारस, जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह और शहरी विकास मंत्री सुरेश शर्मा अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों से ज्यादा अमीर हैं।

ये जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित बिहार के 28 कैबिनेट मिनिस्टर्स ने अपनी संपत्ति का ब्योरा साझा किया।

बता दें संपत्ति के ब्योरे में सीएम नीतीश ने 40,039 नकद, तीन बैंक खातों में 42,000 रुपए बताए। इसके अलावा उनके पास खुद की 2015 मॉडल फोर्ड इकोस्पोर्ट कार, 2016 मॉडल हुंडई ग्रांड है। मुख्यमंत्री के पास 51 तोला सोना और पांच किलो चांदी के बर्तन के अलावा 20-20 ग्राम वजनी दो सोने की अंगूठी, एक मोती जड़ी चांदी की अंगूठी है।

सोना छोड़कर उनकी चल संपत्ति 16,18,947 रुपए हैं। उनकी संपत्ति में कंप्यूटर, ट्रेड मिल और ओटीजी शामिल हैं। नीतीश कुमार के पास राजधानी के द्वारका में एक फ्लैट भी है। जिनकी अनुमानित कीमत 40 लाख रुपए आंकी गई है।

जानना चाहिए कि नीतीश कुमार के पास कृषि के लिए जहां खुद की जमीन नहीं है वहीं उनके बेटे निशांत के पास कृषि जमीन है। उनके पास पैतृक भूमि के अलावा कल्याण बीघा और बख्तियारपुर में घर है। घर और जमीन की अनुमानित कीमत 2.67 करोड़ रुपए बैठती है। निशांत के पास चल संपत्ति करीब 1.30 करोड़ रुपए की है।

शहरी विकास मंत्री सुरेश शर्मा कैबिनेट मंत्रियों में सबसे अमीर हैं। उनके पास 9,74 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति है। शर्मा के पास चल संपत्ति 68,80,649 रुपए है जबकि उनकी पत्नी के पास चल संपत्ति 31,71,711 रुपए हैं। काबीना मत्री ने अपनी अचल संपत्ति 4,42,10,711 रुपए घोषित की है। पत्नी के पास 4,35,60,000 रुपए का एक घर भी है।

राजीव रंजन ने अपनी चल संपत्ति करीब 8.4 करोड़ रुपए घोषित की है। हालांकि उनपर 63 लाख रुपए की देनदारी भी है। सिंह और उनकी पत्नी के पास क्रमश:1,06,29,299 और 21,42,744 रुपए की अचल संपत्ति है। राजीव रंजन के पास 78,25,000 रुपए की कृषि भूमि और 6,94,80,000 की अन्य संपत्ति है। पत्नी के पास एक घर है जिसकी कीमत 48,78,000 रुपए हैं।

पशुपालन मंत्री पशुपति कुमार पारस, जो कि एलजेपी चीफ और केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवास के छोटे भाई है, ने अचल संपत्ति का ब्योरा साझा नहीं किया। हालांकि पारस के पास जो चल संपत्ति है उसमें ज्यादातर बैंक में जमा राशि है। उनके बैंक में 1,32,33,727 रुपए हैं जबकि पत्नी के बैंक खाते में 1,32,33,727 रुपए जमा है। वह स्कूल से रिटॉयर्ड हैं। इसके अलावा पारस के पास खगड़िया में 22 बीघा कृषि भूमि है। खगड़िया में ही 2,000 sq-ft का घर भी है। एक घर पटना में भी है।

इसके अलावा राजधानी पटना में ही एक दो कमरों फ्लैट भी है। पत्नी के पास खगड़िया में 3,500 sq-ft की कमर्शियल बिल्डिंग है। करीब 2,700 sq-ft जमीन राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के पास ग्रेटर नोएडा में है। दिल्ली के ही पटेल नगर में तीन बैडरूम वाला एक फ्लैट भी है।

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय नीतीश कैबिनेट में एकलौते ऐसे मंत्री है जिनके पास ना तो जमीन है और ना ही घर है।

वहीं राज्य के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार ने बैंक में जमा राशि 55,28,759 रुपए घोषित की है जबकि उनकी पत्नी, जो एक यूनिवर्सिटी में टीचर हैं, के बैंक में 87,58,940 रुपए जमा हैं। सुशील मोदी के पास 2008 मॉडल की एक स्विफ्ट कार है। उन्होंने अपनी चल संपत्ति 1.04 करोड़ रुपए घोषित की है जबकि पत्नी के पास चल संपत्ति 1,51,40,558 रुपए है। दंपत्ति के पास अलग-अलग 34,71 लाख रुपए की अचल संपत्ति भी है।


BY : Ankit Rastogi