राजनीति - लोकसभा में फिर बवाल के असार, भाजपा-कांग्रेस ने जारी किया तीन लाइन का व्हिप

लोकसभा में फिर बवाल के असार, भाजपा-कांग्रेस ने जारी किया तीन लाइन का व्हिप



Posted Date: 07 Jan 2019

54
View
         

नई दिल्ली। शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा में आज (सोमवार) की कार्यवाही के दौरान बवाल होने के पूरे आसार नजर आ रहे हैं। दरअसल कई अटके विधेयकों के चलते आज की कार्यवाही काफी अहम मानी जा रही है। इसलिए सत्ता पक्ष (भाजपा) और विपक्ष (कांग्रेस) दोनों ने एक बार फिर व्हिप जारी किया है। जिसके अनुसार दोनों ही दलों के सभी विधायकों का अदन में मौजूद होना अनिवार्य है।

बता दें इससे पहले तीन तलाक मामले में भी दोनों ही दलों ने अपने-अपने विधायकों को व्हिप जारी किया था। लेकिन इसके बावजूद भाजपा के कई विधायक मौके से नदारद रहे थे। ऐसे में इस बार दोनों दलों ने तीन लाइन का व्हिप जारी किया है।

खबरों के मुताबिक़ नागरिकता संशोधन विधेयक पर लोकसभा में सोमवार को पेश होने जा रही संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की अंतिम रिपोर्ट में कम से कम चार विपक्षी दलों की सहमति नहीं है और इस समिति में उनके प्रतिनिधियों ने रिपोर्ट में अपना विरोध दर्ज कराया है।

कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, माकपा और समाजवादी पार्टी के सूत्रों ने बताया कि उनके सदस्यों ने इस विधेयक पर जेपीसी रिपोर्ट में अपनी असहमति दर्ज करायी है।

असहमति भरे नोट में से एक में कहा गया है कि नागरिकता संशोधन विधेयक, 2016 पर संयुक्त समिति के सदस्य के तौर पर हम कह सकते हैं कि अंतिम रिपोर्ट में समिति में आम सहमति नहीं थी। हम इस विधेयक के विरुद्ध हैं क्योंकि यह असम में जातीय विभाजन को सतह पर लाता है।

बता दें इस मामले की गंभीरता को देखते हुए ही कांग्रेस और भाजपा दोनों ने अपने-अपने विधायकों को तीन लाइन का व्हिप जारी किया है। ताकि वे अपना पक्ष मजबूती के साथ सदन में रख सकें।

बता दें तीन लाइन का व्हिप सबसे ज्यादा कठोर माना जाता है। कारण है कि इसकी अवहेलना करने वाले की सदस्यता रद्द हो जाती है। ऐसे में ये देखना बड़ा रोचक होगा कि इस बार लोकसभा की कार्यवाही में क्या सभी विधायक मौजूद रहकर अपने-अपने दलों का सपोर्ट करते हैं या ऐन वक्त पर मौके से नदारद रहते हैं।


BY : Ankit Rastogi